बाराबंकी

बाराबंकी: मसौली में रातभर गुल रही बिजली

मसौली!बाराबंकी(अबू शहमा अंसारी)क्षेत्र में फतेहसराय गांव के पास मुख्य लाइन में आई फाल्ट से शुक्रवार रात मसौली क्षेत्र के दो सौ गांवों में अंधेरा रहा। करीब 12 घंटे तक पावर कार्पोरेशन की टीमें फाल्ट ढूंढती रही। इस दौरान गांव में आटा चक्की, स्पेलर ठप रहे तो लोग पानी को तरस गए। लोग मोबाइल तक नहीं चार्ज कर पाए।करीब डेढ़ लाख की आबादी को रात बिन बिजली गुजारनी पड़ी।
शुुक्रवार को रात करीब नौ बजे क्षेत्र के फतेहसराय गांव के पास 33 हजार हाईटेंशन बिजली लाइन में अचानक फाल्ट आ गया। इससे करीब दो सौ गांव की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। इससे आटा चक्की, स्पेलर आदि ठप रहे। सूचना पर रात में ही इलाकाई इंजीनियर व कर्मचारी मौके पर पहुंचे लेकिन फाल्ट नहीं ढूंढ सके। टीम वापस चली गई।
रातभर करीब डेढ़ लाख लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सुबह पानी के लिए लोग भटकते रहे। पानी भरने के लिए हैंडपंप का सहारा लेना पड़ा। शनिवार सुबह पावर कार्पोरेशन की टीम ने फाल्ट ढूंढ़ कर बिजली लाइन दुरुस्त की। सुबह करीब नौ बजे बिजली आपूर्ति शुरू हो सकी।
अमृत महोत्सव को लेकर सभी पंचायत सचिवालय एवं सरकारी भवनों को झालरों से सजाया गया है लेकिन रात में अचानक बिजली गुल होने से पंचायत भवनों एव सरकारी भवनों पर अंधेरा छा गया। बिजली उपकेंद्र मसौली के अवर अभियंता लालजी सिंह का कहना है कि फतेहसराय गांव के निकट मुख्य लाइन में खराबी से बिजली आपूर्ति ठप हो गयी थी, फाल्ट को दुरुस्त कराकर बिजली आपूर्ति शुरू करा दी गई है।
करंट की चपेट में आने से मवेशी की मौत
दरियाबाद क्षेत्र की ग्राम पंचायत कयामपुर मजरे लखनिया में बिजली के खंभे में उतरे करंट की चपेट में आने से एक मवेशी की मौत हो गई। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पावर कार्पोरेशन के अधिकारियों को दी लेकिन पावर कार्पोरेशन का कोई कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *