बाराबंकी

बाराबंकी: धनोखर के पर्यटन विकास को आगे आए व्यापारी


अबू शहमा अंसारी
बाराबंकी : नगर के धनोखर सरोवर के पर्यटन विकास के लिए व्यापारी आगे आए हैं। सरोवर को चक्रतीर्थ के रूप में विकसित किया गया है। अब इसके चारों ओर धार्मिक झांकियों को सजाने का काम किया जाना है। इसी श्रृंखला में सरोवर के तट पर तीन और गुफाएं जन सहयोग से बनाई जाएंगी। एक गुफा का निर्माण चल रहा है, जिसमें भगवान श्रीकृष्ण कालिया नाग के फन पर नृत्य करते हुए दिखाई देंगे। दूसरी गुफा शिव परिवार की होगी, जिसमें शिवजी की जटाओं से गंगाजी की धारा अविरल बहती दर्शाई जाएगी। तीसरी छीर सागर में महालक्ष्मी के साथ शेषनाग पर विराजमान चक्रधारी भगवान विष्णु की झांकी भी गुफा में बनाई जाएगी। चौथी गुफा भगवन विष्णु के मत्स्य अवतार की होगी। नगर पालिका परिषद नवाबगंज की अध्यक्ष शशि श्रीवास्तव ने बताया कि नगर के व्यापारियों की बैठक धनोखर चक्रतीर्थ के पर्यटन विकास के संबंध में हुई है। सभी व्यापारियों ने पर्यटन विकास में भरपूर सहयोग का वादा किया है। इनमें व्यापारी नेता राजीव गुप्ता बब्बी, बबलू पांडेय व विनोद गाबा के नाम प्रमुख हैं। व्यापारियों ने गुफाओं का निर्माण व उनके अंदर की प्रतिमाओं की स्थापना में होने वाले खर्च का वहन का भी वादा किया है। इससे नगर पालिका पर अब और अधिक आर्थिक बोझ नहीं पड़ेगा। व्यास गद्दी का निर्माण जारी है। श्रीकृष्ण गुफा में नाग पर श्रीकृष्ण के नृत्य करती प्रतिमा का निर्माण के लिए राजस्थान के जयपुर की एक कंपनी को आर्डर दिया गया है। दशहरा से पहले निर्माण का लक्ष्य : अध्यक्ष ने बताया कि दशहरा से पहले सभी गुफाओं का निर्माण पूरा करने का लक्ष्य है। ताकि धनोखर चक्रतीर्थ पर रामलीला के कुछ दृश्यों का मंचन भी इस बार भव्यता से कराया जा सके। चक्रतीर्थ में पवित्र नदियों का जल : चक्रतीर्थ में गंगा सागर, रामेश्वरम, गोदावरी, गंगोत्री, यमुनोत्री, मथुरा से यमुना नदी, अयोध्या से सरयू नदी व गुप्त गोदावरी नदी का जल भी लाकर मंत्रोच्चारण के साथ प्रवाहित कराया जाएगा। इसके लिए संत-महंतों को भी आमंत्रित किया जाएगा। यह कार्यक्रम नवरात्र में कराए जाने का लक्ष्य है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *