गोरखपुर शिक्षा

सतर्कता के साथ उत्साह: मदरसों में आज से शुरू होंगी कक्षाएं, बढ़ेगी रौनक

गोरखपुर। बुधवार पहली सितंबर से मदरसों में ऑफलाइन कक्षाएं शुरू होंगी। कक्षा 1 से 5 तक के विद्यार्थी मदरसे में आकर पढ़ सकेंगे। कक्षाएं सुबह 8 से दोपहर 1 बजे तक चलेंगी। मदरसों में कोविड गाइडलाइन का पालन किया जायेगा। कक्षाएं फिजिकल डिस्टेंसिंग सिस्टम पर चलेंगी। विद्यार्थियों व शिक्षकों को मास्क लगाना अनिवार्य रहेगा।

मदरसा संचालक कक्षा चलाने के बाबत तैयारी कर रहे हैं। मदरसों में दाखिल प्रक्रिया भी शुरु हो चुकी है। वहीं कक्षा 6, 7 व 8 की कक्षाएं 24 अगस्त से शुरु है। किसी मदरसे में 8 से 10 तो किसी में 20 से 25 विद्यार्थी कक्षा में उपस्थित हो रहे हैं। मदरसों में मार्च से पठन पाठन स्थगित है। छोटे बच्चों की पढ़ाई शुरु होने से मदरसों में एक बार फिर रौनक लौट आयेगी। मदरसा खुलने से विद्यार्थियों व शिक्षकों में उत्साह है।

मदरसा संचालक अभिभावकों से संपर्क कर विद्यार्थियों को कक्षा में भेजने की अपील कर रहे हैं। मदरसों में अधिकतर बच्चे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से आते हैं। कोविड के दौरान मदरसों से ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू तो हुआ लेकिन स्मार्टफोन नहीं होने के कारण अधिकतर विद्यार्थी पढ़ाई नहीं कर सके। शहर के कुछ निजी मदरसों में ही ऑनलाइन शिक्षण का कार्य सुचारू रूप से चल सका। अधिकतर मान्यता प्राप्त और निजी मदरसों में पचास प्रतिशत से भी कम ही बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई कर सके।

मदरसा जियाउल उलूम पुराना गोरखपुर गोरखनाथ के प्रधानाचार्य मौलाना नुरुज़्ज़मा मिस्बाही ने बताया कि कक्षा छह से आठ तक की कक्षाएं 24 अगस्त से शुरू हो गई हैं। वहीं कक्षा एक से पांच तक की कक्षाएं बुधवार से शुरु होंगी। कक्षाएं सुबह 8 से दोपहर 1 बजे तक चलेंगी। कोविड गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन किया जायेगा। मदरसों में विद्यार्थी व शिक्षकों सभी मास्क लगायेंगे। सीटों के बीच फिजिकल डिस्टेंस रहेगा। सैनिटाइजर आदि का इंतजाम रहेगा। मदरसे की साफ-सफाई करवा ली गई है। कक्षा 6,7 व 8 तक की कक्षाओं में 20 से 25 छात्र उपस्थित हो रहे हैं। मदरसे में दाखिला प्रक्रिया भी शुरु हो चुकी है। अभिभावक व विद्यार्थी कक्षा संचालन की जानकारी हासिल कर रहे हैं। काफी वक्त बाद मदरसे में सुचारु रूप से पठन पाठन होगा।

मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया दीवान बाजार के शिक्षक मोहम्मद आज़म खान व नवेद आलम ने बताया कि कोविड 19 गाइडलाइन के मुताबिक मदरसों में पठन पाठन होगा। फिलहाल कक्षा छह से आठ तक में करीब 8 से 10 विद्यार्थी कक्षा में उपस्थित हो रहे हैं। कक्षा 1 से 5 तक की कक्षाएं शुरु होने पर तादाद बढ़ेगी। कक्षाओं के संचालन में तमाम एहतियाती कदम उठाये जायेंगे। छात्रों के अभिभावकों से सम्पर्क किया जा रहा है। मदरसे में साफ-सफाई हो रही है। फिजिकल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए कक्षाएं संचालित होंगी। कक्षाएं सुबह 8 से दोपहर 1 बजे तक चलेंगी। हफ्ते में शुक्रवार को अवकाश रहेगा।

जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के आंकड़ों के मुताबिक जनपद में दस अनुदानित मदरसों सहित कुल 242 मान्यता प्राप्त मदरसे हैं। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी आशुतोष पांडेय ने बताया कि एक सितंबर से मदरसों में ऑफलाइन मोड में कक्षाएं प्रारंभ कराने का आदेश जारी किया गया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *