संपादकीय

भगवा लव ट्रैप की 1 और कहानी

बरेली बहेड़ी में 1 दलित समाज का लड़का सहारनपुर से फर्जी मुस्लिम बनकर मुस्लिम लड़की से शादी करने सुबह 11 बजे पहुंचा,

लड़की और लड़के का प्रेम प्रसंग चल रहा था 8 महीने से
कुछ लोगों का कहना है इनकी मुलाकात किसी दरगाह पर हुई थी फेसबुक पर हुई थी या किसी exam सेंटर पर हुई थी, वहीं से नंबर एक्सचेंज हुआ।

लड़का कभी कभी बहेड़ी के इस मोहल्ले में लड़की के घर भी आया करता था, इस परिवार को खर्चा पानी भी दिया करता था क्योंकि आसपास के लोग अपनी दुनियां में मस्त थे इसलिए इस गरीब मुस्लिम परिवार का खर्च गैर मुस्लिम उठा रहा था।

गंदे जानवर का मांस खाने वाले लड़के ने शादी से 1 दिन पहले अपने गांव सहारनपुर में लड़की नाच करवाया भांगड़ा पार्टी करवाई और अपने गांव के मुस्लिम दोस्त को चिड़ा रहा था कि mulli से शादी करूंगा हिंदू बनाकर रक्खूंगा,

जब ये बात वहां के कुछ और मुस्लिम लड़कों को पता चली तो उन्होंने शादी वाले दिन इनका पीछा करने का प्लान बनाया और लड़की के परिवार को इसके मुस्लिम बनने के ढोंग को उजागर करने के लिए किराए की गाड़ी book करके सहारनपुर से बरेली की तरफ निकल पड़े और जहेज़ लेने जो गाड़ी बहेड़ी जा रही थी उसका पीछा करने लगे।

लड़के को कहीं से पता चल गया कि जहेज़ वाली गाड़ी का कोई पीछा कर रहा है तो उसने उस गाड़ी को बिलवा नैनीताल पुल के पास 2 घंटे के लिए रुकने को बोला, कहा जब हम लोग यहां से निकाह करके निकल जाएं तब तुम लोग आना,

शाम को 6 बजे गाड़ी का पीछा करते करते बहेड़ी के जिस गांव में शादी थी वहां पहुंचे, जहां लड़की की मां गाड़ी पर बैठकर जहेज़ वाली लोकेशन पर गाड़ी को लेकर निकलने वाली थी वहीं लोकल टीम के लोग उसे रोक लिए और सारी कहानी बताई

पहले तो लड़की की मां मानने को तैयार ही नहीं थी, फिर पूरा गांव आ गया बवाल हो गया, sc समाज के तीन लड़के जो जहेज़ लेने आए थे उन्हे लोगों ने पकड़ लिया
किसी ने पुलिस में फोन कर दिया पुलिस आई पहले दो लड़कों को ले गई लड़के का भतीजा से गांव समाज के लोग राज़ उगलवा रहे थे मकसद पूछ रहे थे, उसके बाद लड़के को फोन किया गया कि वापस आ जाओ नही तो ये बचने का नही है, लड़का बोला ठीक है आते हैं उसके बाद पुलिस फिर वापस आई और तीसरे लड़के को भी थाने ले गई।

रात 8 या 9 बजे लड़का लड़की को लेकर थाने पैदल पहुंचता है जहां लड़की की मां और गांव समाज के लोग लड़की को समझाते हैं कि इस लड़के को छोड़ दो ये तुम्हारी जिंदगी बर्बाद कर देगा, लड़की की मां को लड़की को समझाते समझाते दौरा पड़ने लगता है लेकिन लड़की नहीं मानती है रात 1 बजे तक यही सब चलता है

फिर पुलिस वाले लड़की को महिला थाने और लड़के को जेल भेज देते हैं, आज फिर सब लोग थाने जा रहे हैं अब देखते हैं आगे क्या होता है।

इसमें गलती हम लोगों की इतनी सी है कि हमलोग बहेड़ी के निकाह से पहले इन लोगों को 300 गांव में ढूंढ नहीं पाए अगर पुलिस से पहले मिल जाते तो मामला कुछ और होता,

https://youtube.com/shorts/dLbyt7ImGHI?feature=share


हम कई सालों से कह रहे हैं कि हर जिले में एकजुट हो जाओ टीम बनाओ नेटवर्क मजबूत करो लेकिन लोग सुनने को तैयार नहीं

कब तक हर मुद्दे पर हम लोग जलील होते रहेंगे कोई प्लान है कि करना क्या है, सिवाए लिखने के ?

अरे उम्मते मुस्लिमा कब समझोगे अपने दुनियां में आने का असल मकसद ?

आज ही अपने गांव में अपने मोहल्लों में अपने शहरों में सुन्नी यूथ फ़ोर्स संगठन की बुनियाद रखें और अपने आप को मजबूत करें 12 से 15 लड़कों की टीम बनाए और हम से राब्ता करे

कांटेक्ट नंबर ⤵️📱
+91 7972674807
+91 797243 2536

सुन्नी यूथ फ़ोर्स राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी संगठन

शोऐब रज़ा

विश्व प्रसिद्ध वेब पोर्टल हमारी आवाज़ के संस्थापक और निदेशक श्री मौलाना मोहम्मद शोऐब रज़ा साहब हैं, जो गोरखपुर (यूपी) के सबसे पुराने शहर गोला बाजार से ताल्लुक रखते हैं। वे एक सफल वेब डिजाइनर भी हैं। हमारी आवाज़

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button