गोरखपुर

गोरखपुर: विधवा का मकान दबंगो ने दिनदहाड़े ताला तोड़ किया कब्जा

  • पीड़िता ने पुलिस पर कब्जा कराने का लगाया आरोप
  • पुलिस ने जबरिया तहरीर बदलवा कर दर्ज किया मुकदमा
  • मकान के छत पर लगे राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को तोड़कर फेक दिया
  • दिन दहाड़े मकान का ताला तोड़कर घर मे घुसकर किया तोड़ फोड़
  • मकान से संबंधित एक सिविल वाद न्यायालय में विचाराधीन है

गोरखपुर।एसएसपी कार्यालय पर गुहार लगाने
पहुची स्थानीय थाना खोराबार के ग्राम सिकठौर निवासिनी तीलेस्वरी ने बताया कि दिनाँक 26/ 8/ 22 को दिन में लगभग 1 बजे अपने पोते को स्कूल से लेने गयी थी उसी समय तीलेस्वरी की ज्येष्ट निवासी ग्राम। थाना हरपुर बुदहट अपने पुत्रों पुत्रियो एवं दर्जनभर अज्ञात लोगों के साथ प्रथिनी के मकान पर चढ़ आये मकान का ताला तोड़कर अंदर घुसे तोड़फोड़ करने लगे और सारा सामान बाहर फेंक दिया दरवाजे पर खड़ी कई गाड़ियों को तोड़ डाला एवं गाड़ियो में आग लगाने का प्रयास किया
मकान के छत पे अमृत महोत्सव के दौरान लगे राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को तोड़ कर फेंक दिया जब प्रार्थिनी ने इसका विरोध किया तो सभी लोगो ने प्रार्थिनी एवम उसकी पुत्री को मार पीट कर घायल कर दिया एवम मेरी पुत्री के इज्जत लूटने की नीयत से कपड़े फाड़ डाले इसकी सूचना 112 no पर दी गयी तकरीबन आधे घंटे घण्टे बाद पुलिस आयी थाने जाने की सलाह दे कर चली गयी जब प्रार्थिनी इसकी सूचना लिखित तहरीर थाने पर दिया पर दिया शाम को पुलिस आयी और मौके मौजूद सभी कब्जेदारो एवम
मेरे छोटे बेटे को थाने ले गयी परंतु दो कब्जेधारी महिलाओ को घर मे छोड़ दिया जो अभी भी मकान पर कब्जा जमाए बैठी है
पीड़िता ने घटना की सूचना लिखित तहरीर के रूप में थाना खोराबार को दिया जिसकी प्रतिलिपि जरिये राजिस्टरी एवं जनसुनवाई पोर्टल पर बरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गोरखपुर को दिया परंतु पुलिस ने दी गयी तहरीर के अनुसार मुकदमा दर्ज न करते हुए जबरिया मेरे पुत्र से दूसरी तहरीर पर हस्ताक्षर करा कर मामले का अल्पीकरण करके मनमाना तरीके मुकदमा अपराध संख्या 0461/22 दर्ज कर खाना पूर्ति कर लिया

शायद पुलिस की नजर में दिनदहाड़े राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान करना लड़की के कपड़े फाड़ना गले की चेन लूटना कोई अपराध नही है

थक हार कर पीड़िता ने इसकी सूचना अपर पुलिस महानिदेशक कार्यालय में बने जान सुनवाई केंद्र को दिया जहा थानादिवस में जाने की सलाह दी गयी

पुलिस की निष्क्रिय कार्यवाही के चलते मुल्जिमानों का हौसला बुलंद है एवं कुछ लोग अभी भी मकान पर कब्जा जमाए बैठे है जिसके चलते पीड़िता एवं उसकी पुत्री जान माल एवम आबरू से सुरक्षित नही एवं यहा के कभी कोई घटना घटित हो सकती है
27/ 8/ 22 की मध्य कुछ लोगो ने पुनः पीड़िता के घर आकर धमकी दिया कि मकान छोड़ कर भाग जाओ नही तो तुम्हारे पूरे परिवार को ख़त्म कर देंगे

दिनाँक 28 /8 /2022 को पुनःरात्रि लगभग पीड़िता के घर उपरोक्त लोग आकर मारपीट करने लगे जिससे पीड़िता का हाथ टूट गया

पुनः दिनाँक 29/ 8 /22 को जब पीड़ित तहरीर बदलने की सूचना एसएसपी को देने गयी थी दिनमे तकरीबन 1 बजे पांच लोग आए एवम घर मे कब्जा जमाए अभियुक्त महिलाओं ने मिलकर मेरी पुत्री को मारपीट कर घायल कर दिया जिसकी सूचना तत्काल पुलिस को दिया गया मौके पर थाने की पुलिस आई मुझे एवम मेरी चोटिल पुत्री को मुकदमा दर्ज करने थाने ले गयी एवं कब्जाधारी महिलाओ को वही छोड़ दिया । रात 9 बजे तक थाने पर बैठाने के बाद अपराध पंजीकृत नही हुआ
कोई कार्यवाही नही होने पर थक हार कर साहब को सूचना देने आयी हु जिससे मेरे जान माल एव आबरू की रक्षा हो सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *