गोरखपुर

मिर्गी का दौरा पड़ने से रोज़ा नहीं टूटेगा: उलमा-ए-किराम

गोरखपुर। उलमा-ए-अहले सुन्नत द्वारा जारी रमज़ान हेल्पलाइन नंबरों पर मंगलवार को सवाल-जवाब का सिलसिला जारी रहा। लोगों ने अलविदा, ईद, नमाज़, रोज़ा, जकात, फित्रा आदि के बारे में सवाल किए। उलमा-ए-किराम ने क़ुरआन व हदीस की रोशनी में जवाब दिया।

सवाल : रोज़े की हालत में अगर मिर्गी के रोगी को दौरा पड़ जाए तो क्या रोज़ा टूट जाएगा? (आसिफ महमूद, जमुनहिया बाग)
जवाब: रोज़ा नहीं टूटेगा। (मुफ्ती मेराज अहमद क़ादरी)

2.सवाल : क्या आंख में सुरमा लगाने और सर में तेल लगाने से रोज़ा टूट जाता है? (शुएब अंसारी, तुर्कमानपुर)
जवाब : नहीं। आंख में सुरमा लगाने और सर में तेल लगाने से रोज़ा नहीं टूटेगा अगरचे उसका मजा हलक में मालूम हो। (कारी मो. अनस रज़वी)

सवाल : कुत्ते के काटने के बाद जो इंजेक्शन लगाया जाता है या ड्रिप चढ़ाया जाता है तो क्या इससे रोज़ा टूट जाता है? (अब्दुल, अलीनगर)
जवाब: कुत्ते के काटने का इंजेक्शन नाफ में लगाया जाता है मगर उससे रोज़ा नहीं टूटता है क्योंकि इंजेक्शन के जरिया दवा जौफे मेदा में नहीं पहुंचती और ड्रिप चढ़ाने से भी रोज़ा नहीं टूटता। (मुफ्ती मो. अजहर शम्सी)

सवाल : मोबाइल में क़ुरआन-ए-पाक को बेवुजू पढ़ना या छूना कैसा? (सोहेल, पहाड़पुर)
जवाब : जायज़ है। मगर अदब का तकाजा यह है कि वुजू कर लें। (हाफ़िज़ रहमत अली निज़ामी)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *