गोरखपुर

बच्चों में पृथ्वी संरक्षण के संस्कार डाले शिक्षक-अभिभावक

वन विभाग एवं हेरिटेज फाउंडेशन के ‘विश्व पृथ्वी दिवस सप्ताह समारोह’

उदघाटन सत्र में डीएफओ विकास कुमार यादव ने किया आह्वान

सेंट्रल पब्लिक स्कूल में पृथ्वी दिवस पर ड्राइंग प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम

गोरखपुर।
प्रभागीय वन अधिकारी विकास कुमार यादव ने कहा कि साल दर साल पृथ्वी को लगातार क्षति पहुंच रही जिसका मुख्य कारण जनसामान्य का संरक्षण पर ध्यान न देना है। इसी को केंद्र में रखते हुए इस बार पृथ्वी दिवस की थीम ‘इन्वेस्ट इन आर प्लेनेट’ है। इस थीम से लोगों का ध्यान सतत विकास की तरफ लाने की कोशिश की जा रही है। लेकिन सतत संरक्षण की यह शुरूआत स्कूल-कालेज और घरों से बच्चों के साथ हो सकती है। बच्चों को हमें छोटी उम्र से ही सिखाना चाहिए कि पृथ्वी को बचाने में किस तरह छोटी-छोटी आदतें भी बड़ी भूमिका निभा सकती हैं।
मुख्य अतिथि डीएफओ विकास कुमार, शुक्रवार को वन विभाग एवं हेरिटेज फाउंडेशन के तत्वावधान में ‘विश्व पृथ्वी दिवस सप्ताह समारोह’ के उदघाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। सेंट्रल पब्लिक स्कूल मोद्दीपुर में सुबह 8 बजे से 10 बजे तक आयोजित कार्यक्रम में 40 की संख्या में छात्रों ने पृथ्वी दिवस पर स्वयं की कल्पनाशीलता से पेटिंग बना, पृथ्वी संरक्षण का न केवल संदेश दिया बल्कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों से ही पृथ्वी के संरक्षण के प्रति सभी को प्रेरित किया। पशु चिकित्साधिकारी डॉ संजय कुमार श्रीवास्तव ने भी डीएफओ विकास कुमार की बातों को ही आगे बढ़ाया, उन्होंने कहा कि बच्चों को पुरानी चीजों को दोबारा इस्तेमाल करना, पौधो में पानी डालने, स्ट्रीट डॉग्स को खाना देना, पोलिथीन का इस्तेमाल न करने, पानी बचाने की छोटी छोटी आदतों के प्रति समय समय पर जागरूक करना चाहिए। शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान के वाइल्ड लाइफ विशेषज्ञ डॉ योगेश प्रताप सिंह ने छात्रों को प्राणी उद्यान आने का निमंत्रण दिया। कहा कि हमें अपने आस पास के पेड़ पौधों, पक्षियों और वन्यजीव के बारे में जानना चाहिए। प्रबंधक रामेश्वर सिंह, शिक्षाविद् डॉ शैलजा सिंह, प्रधानाचार्य नारायणी शाही ने भी बच्चों के कार्यक्रमों की सराहना की। कार्यक्रम का संचालन खुर्शीद बानो, कृष्णा डे, आशा श्रीवास्तव, किरण पाठक, स्वाति मिश्र, वशिष्ठ ने किया। शिक्षक बृजेश मिश्र, दीपक सिंह, प्रिंस निषाद, विवेक यादव, श्वेता त्रिपाठी, शाजिया परवीन, प्रिया चतुर्वेदी, बबिता यादव, शबीना नाजो ने भी सहयोग किया।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों से दिया संरक्षण का संदेश

बृक्ष बचाओ-पर्यावरण बचाओे शीर्षक की नृत्य नाटिका में अंजलि, अलिज्बा, उन्नति, आयुषी, लक्ष्य, नमन शौर्यभूषण, मानवी, निष्ठा, अनुराधा, दिव्यांश एवं अश्वी ने जागरूकता परक प्रस्तुति दी। धरा बचाओं नाटिका में पार्थ, प्रत्यूष, अदिति, अनुज्ञा, अनन्या, वंशिका, दिव्यांका, जान्हवी, आदर्श, सिद्धार्थ, निमित्त, अंशिका ने प्रस्तुति दी। शाम्भवी, अभिज्ञा, जान्हवी, हर्ष, माधवेंद्र, प्रखर ने पृथ्वी दिवस पर भाषण दिया। प्रकृति गीत की प्रस्तुति अन्वेषा और श्रेया ने दी। आयुष, अपेक्षा, सृष्टि, आराध्या, अनन्या, यशस्वी ने नृत्य के जरिए सेव अर्थ का आह्वान किया।

और पेटिंग प्रतियोगिता में ये छात्र रहे विजेता

पेटिंग प्रतियोगिता में कक्षा 6 की आलिया नाज को प्रथम, कक्षा पांचवी की श्रेया चंद्रा द्वितीय एवं माधवेंद्र श्रीवास्तव ने तीसरा स्थान पाया। सांत्वना पुरस्कार कक्षा दो की छात्रा अराध्या कुमारी, कक्षा 6 की कृतिका कश्यप एवं कक्षा 8 के छात्र अमय यादव को मिला।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *