देवरिया व कुशीनगर पूर्वांचल

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से से हज व उमरा करने वालों को मिल सकती है सुविधा

गोरखपुर। गोरखपुर-बस्ती मंडल से हजारों लोग हर साल अरब देशों में रोजगार के लिए जाते हैं। वहीं हर साल पूर्वांचल से हजारों मुसलमान हज व उमरा करने के लिए सऊदी अरब जाते हैं। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का उद्घाटन किए जाने से अरब देशों में काम करने के लिए जाने वालों लोगों व हज-उमरा करने वालों में उम्मीद जगी है कि अब उन्हें कुशीनगर से फ्लाइट पकड़ने में बहुत आसानी होगी।। बताते चलें कि बहुत वक्त से गोरखपुर में हज हाउस बनाने की मांग भी की जा रही थी। कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट शुरु हो जाने से हज हाउस बनने की भी उम्मीद जग गई है।

एडवोकेट तौहीद अहमद ने कहा कि कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट शुरु हो जाने से खाड़ी देशों में नौकरी करने वालों को फायदा मिल सकता है। वहीं हज व उमरा करने वालों को आने वाले दिनों में सुविधा मिलने की उम्मीद जगी है। कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से पर्यटन की दृष्टि से भी लाभदायक है। वहीं टूर एंड ट्रेवल्स एजेंसी वालों को भी फायदा होगा। हज हाउस बनने का रास्ता भी खुल सकता है। जो हजारों लोगों के लिए काफी लाभदायक साबित हो सकता है।

व्यवसायी खुर्शीद अहमद मून ने कहा हजारों लोग हज व उमरा करने सऊदी अरब जाते हैं। साथ ही रोजी रोजगार के लिए गल्फ कंट्री में जाना पड़ता है। अरब देशों के लिए फ्लाइट शुरु होने से पूर्वांचल के लोगों को काफी फायदा होगा। पर्यटन विकास में यह एयरपोर्ट मिल का पत्थर साबित होगा। एयरपोर्ट पूर्वांचल के 13 जिलों व पश्चिमी बिहार के 10 जिलों के मध्य में स्थित है। इन जिलों के कई लाख लोग खाड़ी देशों में कार्यरत हैं। एयरपोर्ट के निर्माण के शुरुआती दौर में मध्यस्थ कंपनी आइएलएफएस इंफ्रा ने एक सर्वे में एक लाख लोगों के आवागमन का अनुमान लगाया था।

अल्पसंख्यक विभाग में कार्यरत शहनवाज़ अहमद ने कहा कि आने वाले वक्त में कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के दूरगामी परिणाम सामने आयेंगे। पर्यटन विकास के साथ अरब देशों में रोजगार के लिए आने जाने वालों को भी लाभ मिलने की उम्मीद जगी है। सऊदी अरब के लिए फ्लाइट व्यवस्था शुरु होने पर हज व उमरा करने वाले हजारों लोगों को सहूलियत मिलेगी। हज हाउस बनने की उम्मीद भी जगी है।

मदरसा जियाउल उलूम पुराना गोरखपुर में शिक्षक मौलाना जहांगीर अहमद अज़ीज़ी ने कहा कि पर्यटन की दृष्टि से पूर्वांचल काफी समृद्ध है। कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से पूर्वांचल वासियों व बाहर से आने वाले सैलानियों को काफी लाभ मिलेगा। रोजी रोजगार के नये आयाम खुलेंगे। खाड़ी देशों के लिए फ्लाइट संचालन होने से हजारों लोगों को सहूलियत मिल सकती है। आने वाले वक्त में हज व उमरा करने वालों को भी लाभ मिलने से इंकार नहीं किया जा सकता है। टूर एंड ट्रेवल्स एजेंसियों को भी लाभ होगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *