गोरखपुर

उलेमा-ए-किराम ने जिला अस्पताल में जाना इमाम का हाल, की मदद

गोरखपुर। आसामाजिक तत्वों के हमले में घायल नूरी मस्जिद अहिरौली गोला के इमाम हाफिज सरफराज अहमद का हालचाल पूछने व मदद करने के लिए तंजीम उलेमा-ए-अहले सुन्नत का एक प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को जिला अस्पताल पहुंचा। इमाम साहब व उनके परिवार वालों का हालचाल जाना और हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। तंजीम ने इमाम साहब की आर्थिक रुप से मदद भी की।

मुफ्ती अख्तर हुसैन मन्नानी (मुफ्ती-ए-शहर) ने कहा कि हमारी मांग है कि इमाम साहब पर हमला करने वालों की जल्द गिरफ्तारी कर कड़ी सजा दी जाए। मस्जिद, मदरसा व दरगाहों के हिफाजत का इंतजाम किया जाए। इमाम साहब पर हमले की जितनी निंदा की जाए कम है। यह हमला अमन व शांति तोड़ने की नापाक कोशिश है।

मुफ्ती मो. अज़हर शम्सी (नायब काजी) ने कहा कि कुछ आसामाजिक तत्व सामाजिक भाईचारा तोड़ना चाहते हैं लेकिन उलेमा-ए-किराम ऐसा होने नहीं देंगे। इमाम साहब पर हमला निंदनीय है। दोषियों की जल्द गिरफ्तारी कर कड़ी सजा दी जाए। इबादतगाहों व उलेमा-ए-किराम की हिफाजत के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं। तंजीम इमाम साहब के साथ है। हर संभव मदद की जाएगी। इमाम साहब को इंसाफ दिलाया जाएगा।

प्रतिनिधिमंडल में कारी अफजल बरकाती, हाफ़िज निज़ामुद्दीन, मौलाना अनवर अहमद तनवीरी आदि मौजूद रहे।

शोऐब रज़ा

विश्व प्रसिद्ध वेब पोर्टल हमारी आवाज़ के संस्थापक और निदेशक श्री मौलाना मोहम्मद शोऐब रज़ा साहब हैं, जो गोरखपुर (यूपी) के सबसे पुराने शहर गोला बाजार से ताल्लुक रखते हैं। वे एक सफल वेब डिजाइनर भी हैं। हमारी आवाज़

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button