बरेली

बरेली: पुर अमन माहौल में अदा की गई ईद-उल-अज़हा की नमाज़

बरेली शरीफ
आज ईद-उल-अज़हा की नमाज़ *बाकर गंज स्थित ईदगाह, किला की जामा मस्जिद व दरगाह आला हज़रत* समेत शहर भर की सभी दरगाहों, खानकाहो और मस्जिदों में पुर अमन माहौल में अदा की गई। *ईदगाह में मुफ्ती काज़ी-ए-हिंदुस्तान मुफ़्ती असजद रज़ा क़ादरी (असजद मियां), जामा मस्जिद में मुफ़्ती खुर्शीद आलम व दरगाह की रज़ा मस्जिद में कारी रिज़वान रज़ा* ने नमाज़ अदा कराई। ईदगाह समेत सभी मस्जिदों में नमाज़ से पहले ईद-उल-अज़हा की फज़ीलत और *हज़रत इब्राहीम व हज़रत इस्माईल अल्हेअस्सलाम की कुर्बानी से सम्बंधित वाक़या बयान किया। कहा कि अल्लाह की रज़ा व ख़ुशनूदी हासिल करने के लिए जो मुसलमान साहिबे निसाब है वो अल्लाह की राह में कुर्बानी करे।* नमाज़ के बाद ख़ुतबा पढ़कर देश दुनिया मे अमन व खुशहाली की खुसूसी दुआ की गयी। इसके अलावा दरगाह ताजुशशरिया, ख़ानक़ाह-ए-नियाज़िया, दरगाह शाह शराफत अली मियां, दरगाह शाहदाना वली, दरगाह वामीकिया निशातिया, दरगाह वली मियां, दरगाह बशीर मियां, दरगाह नासिर मियां,नूरानी मस्जिद,जहानी मस्जिद,आला हज़रत मस्जिद, बीबी जी मस्जिद,कचहरी मस्जिद,पीराशाह मस्जिद,हरी मस्जिद,सुनहरी मस्जिद, हबीबिया मस्जिद, मुफ्ती ए आज़म मस्जिद,मिर्जाई मस्जिद, 6 मीनार मस्जिद,कलंदर शाह मस्जिद,साबरी मस्जिद,मोती मस्जिद,नूरी मस्जिद चौकी चौराहा मस्जिद,नूरजहाँ मस्जिद समेत सभी छोटी बड़ी मस्जिदों में नमाज़ अदा की गई।
दरगाह आला हज़रत के मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी ने बताया कि शहर में सबसे पहले दरगाह वली मियां की चाँद मस्जिद में सुबह 5 बजकर 45 मिनट पर और सबसे आखिर में दरगाह स्थित रज़ा मस्जिद में नमाज़ अदा की गई। यहाँ *दरगाह प्रमुख हज़रत मौलाना सुब्हान रज़ा खान (सुब्हानी मियां) सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रज़ा क़ादरी (अहसन मियां)* खानदान के सभी बुजुर्गों ने नमाज़ अदा कर सभी को गले मिलकर ईद उल अज़हा की मुबारकबाद दी। *सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन मियां ने इस मौके पर कहा कि हज़रत इब्राहीम खलीलुल्लाह और हज़रत इस्माइल ज़बीबुल्लाह ने अल्लाह के हुक़्म की तामील का जो नमूना पेश किया उसकी मिसाल नामुमकिन है। उम्मते मुस्लिमा पर अल्लाह ने क़ुरबानी लाज़िम कर क़यामत तक इस अज़ीम कुर्बानी को यादगार बना दिया।* इस मौके पर मुफ्ती सलीम नूरी, नासिर कुरैशी,शाहिद नूरी,मंज़ूर खान,परवेज़ नूरी,अजमल नूरी,औरंगजेब नूरी,शान रज़ा, ताहिर अल्वी आदि ने भी सबको ईद की मुबारकबाद पेश की। नमाज़ के बाद जानवरों की कुर्बानी का सिलसिला शुरू हुआ जो तीन दिन तक चलेगा।

नासिर कुरैशी
मीडिया प्रभारी
9897556434

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *