बरेली

कोरोना काल में आलाहज़रत के पैगाम को टेक्नोलाॅजी के माध्यम से दुनिया भर में फैला रहे हैं नबीरा-ए-आलाहज़रत व उस्तादे ज़मन मौ0 कैफ रज़ा खाँ क़ादरी

आज जबकि दुनिया कोरोना काल में थम सी गयी है लोगों का पूरा जीवन ही अस्त व्यस्त हो गया है इसका असर धर्म गुरूओं पर भी देखने को मिल रहा है क्योंकि जलसे तथा धर्म सार्वजनिक स्थलों पर धर्म प्रचार पूरी तरह से बन्द है ऐसे में आलाहज़रत के प्रपौत्र नबीरा-ए- आलाहज़रत व उस्तादे ज़मन मौ0 कैफ रज़ा खाँ क़ादरी ने धर्म प्रचार तथा आलाहज़रत और उस्तादे ज़मन के पैगाम को जन-जन तक पहुंचाने के लिए आधुनिक टेक्नोलाॅजी का सहारा लिया है इसके लिए उन्होंने अधिकृत वेबसाइट के साथ ही सोशल मीडिया को भी धर्म प्रचार का माध्यम बनाया है।
इस संबन्ध में दरगाहे उस्तादे ज़मन उवैस-ए-मिल्लत से जुड़े मो0 फरमान ने बतया कि नबीरा-ए-आलाहज़रत व उस्तादे ज़मन ने सोशल मीडिया से आलाहज़रत के पैगाम को आम करने के लिए एक आई0टी0 सैल का गठन किया है जिसकी सरपरस्ती के साथ ही निगरानी भी स्वयं कर रहे हैं। देश और दुनिया से जुड़े आलाहज़रत के लाखों अक़ीदतमंद रोज बहुत से सवाल पूछते हैं जिनका जवाब मुफ्ती हज़रात की मदद से उन तक पहुँचाया जाता है इससे उन लोगों का समय तथा पैसा बचने के साथ ही कोरोना के रोकथाम में भी सहायक सिद्ध हो रहा है।
हज़रत कैफे मिल्लत ने अपनी आई0टी0 सेल के माध्यम से अपनी अधिकृत वेबसाइट www.ustadezaman.com के साथ ही फेसबुक पेज www.facebook.com/kaifrazakhanqadri, इन्स्टाग्राम www.instagram.com/kaif_raza_qadri, व्हाट्सअप तथा ट्यूटर एकाउंट www.twitter.com/kaif_raza_qadri शुरू किया है जिससे बड़ी संख्या में आलाहज़रत के अकीदतमंद जुड़ रहे हैं और लाभ उठा रहे हैं। इन सोशल प्लेटफार्म के माध्यम से प्रतिदिन आलाहज़रत की तालीम को पोस्ट किया जाता है और यदि किसी अकीदतमंद के मन में किसी प्रकार की कोई जिज्ञासा होती है तो उसका भी समाधान किया जाता है।
मो0 फरमान
दरगाहे उस्तादे ज़मन उवैस-ए-मिल्लत
बरेली शरीफ #9084873989

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *