उत्तर प्रदेश

शाहजहांपुर: नामूसे रिसालतﷺ के लिए अपनी जान माल,अपना घर,बच्चे सब कर देंगे क़ुरबान: सय्यद शुऐब मियां वासती

आज 6 अप्रैल 2021 बरोज़ मंगल बाद नमाज़ इशा तहरीक फरोग़-ऐ-इस्लाम शाख शाहजहांपुर के ज़िला सदर सय्यद शुऐब मियां वासती क़ादरी साहब क़िब्ला ने अपने मदरसे में एक अहम मीटिंग रखी जिसमें सय्यद साहब ने बताया कि गुस्ताखों की ताअदाद बढ़ती जा रही है अब सिर्फ मेमोरेंडम देने से काम नहीं चलेगा बल्कि रोड पर उतर कर हुकूमत से अपने हक़ की बात करनी होगी और ज़ालिमों को सख्त से सख्त सज़ा दिलानी होगी। साथ ही सय्यद शुऐब मियां साहब ने फ़रमाया मैंने अपने घर वालों से इजाज़त भी लेली है अब अगर नामूसे रिसालात के लिए अपनी जान भी देनी पड़ी तो वो भी देने के लिए तैयार हैं बल्कि नामूसे रिसालात के अपने बच्चे और घर भी क़ुरबान करने लिए तैयार हैं। बस हमें 10 तारीख़ का‌ इन्तेज़ार है हज़रत क़मर ग़नी उस्मानी क़ादरी चिश्ती साहब क़िब्ला का जो भी फैसला आएगा हम उस पर लब्बैक कहते हुए अमल पैरा हो जायेंगे। साथ ही तहरीक फरोग़-ऐ-इस्लाम के नेशनल सेक्रेटरी अहसानुल हक़ साहब ने फ़रमाया हमें बस अल्ल्लाह की ज़ात पे भरोसा रख कर मैदान में आना होगा इन्शा अल्लाह फिर अल्ल्लाह की मदद हमारे साथ होगी साथ ही अहसानुल हक़ साहब ने फ़रमाया मैं भी अपने घर वालों से इजाज़त ले चुका अब अगर नामूसे रिसालात के लिए जेल भी जाना पड़े तो हम जाने के लिए तैयार हैं।साथ ही आवाम ने हज़रत की आवाज़ पर लब्बैक कहा। इस मौक़े पर मौलाना जाबिर शाह साहब, मौलाना अफ़ज़ल उल क़ादरी साहब, हाफ़िज़ इस्लाम साहब,कारी इल्यास साहब, हाफ़िज़ इमरान बरकाती साहब,तारीक बरकाती साहब,आमिल बरकाती साहब,जुनैद अहमद साहब,इश्तियाक़ मंसूरी साहब, हाफ़िज़ जावेद साहब,रानू उर्फ मसूद साहब वा तहरीक फरोग़-ऐ-इस्लाम के दीगर ज़िम्मेदारान हज़रात ने शिरकत की।

अज़ क़लम
फक़ीर रियाज़ उल क़ादरी तहरीक फरोग़-ऐ-इस्लाम ब्रांच ऑफिस शाहजहांपुर

शोऐब रज़ा

विश्व प्रसिद्ध वेब पोर्टल हमारी आवाज़ के संस्थापक और निदेशक श्री मौलाना मोहम्मद शोऐब रज़ा साहब हैं, जो गोरखपुर (यूपी) के सबसे पुराने शहर गोला बाजार से ताल्लुक रखते हैं। वे एक सफल वेब डिजाइनर भी हैं। हमारी आवाज़

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button