गोरखपुर

गोरखपुर में आप कार्यकर्ताओं ने लगाई जर्जर स्कूलों की प्रदर्शनी

  • यूपी में अच्छी शिक्षा प्राप्त करना अब सपना बन चुका है – वैभव कुमार जयसवाल
  • “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” का नारा देने वालों ने उत्तर प्रदेश के 25 हजार स्कूल बंद कर दिए- विजय श्रीवास्तव

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी द्वारा शुरू किए गए सेल्फी विद सरकारी स्कूल अभियान की चर्चा जोरों पर है। इसी संदर्भ में गोरखपुर में आप जिलाध्यक्ष वैभव कुमार जायसवाल द्वारा बदहाल और जर्जर सरकारी स्कूलों की एक प्रदर्शनी भी लगाई गई। गोरखपुर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृह जनपद भी है। उनके निवास के 5 किलोमीटर के अंदर आने वाले समस्त सरकारी स्कूलों की तस्वीरें खींच कर उनकी प्रदर्शनी लगाई गई और जनता को सरकारी स्कूलों की अवस्था से अवगत कराया गया।
विजय श्रीवास्तव ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश में 25577 सरकारी स्कूलों को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार ने शिक्षा के गिरते स्तर पर कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाए हैं। वही पत्रकारों से वार्ता के दौरान वैभव कुमार जायसवाल ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश में अच्छी शिक्षा प्राप्त करना छात्र छात्राओं के लिए मुश्किल होता जा रहा है. उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों की स्थिति सुधार कर उसको उच्च कोटि का शैक्षिक केंद्र बनाने के बजाय भाजपा सरकार ने उन्हें बंद कर दिया है. आज खुद मुख्यमंत्री जी के गृह जनपद का यह हाल है तो आप अनुमान लगा सकते हैं कि पूरे प्रदेश में सरकारी स्कूलों की स्थिति कैसी होगी। उन्होंने कहा कि आज आम आदमी पार्टी द्वारा यह प्रदर्शनी लगाकर जनता को बताया जा रहा है कि खुद मुख्यमंत्री के क्षेत्र में उनके निवास के 5 किलोमीटर के अंदर आने वाले सारे सरकारी स्कूल जर्जर और बदहाल अवस्था में है जिस पर मुख्यमंत्री जी कोई सार्थक कदम नहीं उठा रहे हैं तो प्रदेश भर में किस प्रकार लापरवाही बरती जा रही है।
आज प्रदर्शनी मे सुनील श्रीवास्तव हरि ओम इरफान अनिरुद्ध श्रीवास्तव तारिक अनवर किशन जयसवाल अबू जंदल संतोष कुमार प्रियांशु गोविंद रीता पांडे निकिता पांडे पूजा अविनाश प्रजापति अजय साहनी धिरेंद्र जायसवाल रमेश शर्मा राजेश राजभर, विजय कुमार, वीरेंद्र दुबे, राजेश कसौधन, अनिल गुप्ता, अशोक विश्वकर्मा, मोहम्मद कलीम, हरेंद्र यादव, विनीत मिश्रा, मोहम्मद फ़ज़ील शैलेंद्र पांडे, धनंजय, संतोष, अमिताभ जायसवाल आदि लोग शामिल हुए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *