मुंबई

अल्हाज मुहम्मद सईद नूरी खसरा और रूबेला को रोकने के प्रयास में जुटे

मुंबई: शहर में खसरा और रूबेला के कारण लगातार हो रही बच्चों की मौत चिंता का विषय बनती जा रही है। सरकार और नगर निगम के अधिकारी भी बच्चों की मौतों पर गंभीर हैं। ऐसे में रजा एकेडमी ने भी लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए अपना अभियान शुरू कर दिया है। संगठन के संस्थापक अल्हाज मुहम्मद सईद नूरी 20 नवंबर इस आपात स्थिति से निपटने के लिए प्रभावित क्षेत्र गोवंडी का दौरा कर रहे हैं। उन्होंने गोवंडी पहुंच कर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से भी मुलाकात की। विभाग की मुख्य अधिकारी रूपाली मित्रा से विस्तृत चर्चा करते हुए कहा कि स्वास्थ्य टीम अधिक से अधिक जुटाई जाए और जहां भी बीमारी हो वहां बच्चों का इलाज समय पर शिविरों में कराया जाए। उन्होंने आगे कहा कि बच्चे हमारा भविष्य हैं। माता-पिता को संशय में नहीं रहना चाहिए। वे बच्चों के जीवन से न खेलें। उन्हें समय पर टीकाकरण कराना चाहिए।

सईद नूरी साहब ने कहा कि गोविंदी में सबसे बड़ी समस्या स्वच्छता है, जिससे सभी तरह की बीमारियां फैलती हैं। स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें। स्वच्छता से ही बीमारियों को फैलने से काफी हद तक रोका जा सकता है, खासकर जिस घर में तीन बच्चों की मौत हुई है, घर के चारों ओर गंदगी के ढेर हैं, चील में एक बड़ा नाला है, जिससे बदबू फैलती है। यदि नाले के किनारे एक बड़ी दीवार खड़ी कर दी जाए तो बाबा नगर, रफी नगर के निवासियों को प्रदूषण से बचाने में मदद मिलेगी। राष्ट्रीय जागरूकता के तहत गुरुवार 24 नवंबर को दोपहर 2 बजे एक महत्वपूर्ण रैली का आयोजन किया जा रहा है। ‘मदरसा इस्लामिया के छात्रों और सामाजिक कार्यकर्ताओं के सहयोग से की जा रही ये रैली निश्चित रूप से बच्चों के स्वास्थ्य के संबंध में लोगों, विशेषकर माता-पिता पर अच्छा प्रभाव डालेगी।

नूरी साहब की बातचीत सुनने के बाद स्वास्थ्य अधिकारी रूपाली मित्रा ने कहा कि नगर निगम ने खसरा और रूबेला की रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर तैयारी की है जिसमें सात बच्चों का अभी इलाज चल रहा है, नियमित शिविरों की संख्या 84 है। अतिरिक्त शिविर सहित कुल 167 शिविर जनता की सेवा में लगाए गए हैं। जिनमें रफी नगर, बाबा नगर, तत्नगर, कमला रमन नगर, निमोनिया बाग, मंडला, साठे नगर लीलूभाई कंपाउंड आदि शामिल हैं।
रविवार को छोड़कर सात दिनों के लिए कमरा नंबर 206 शिवाजी नगर में निर्धारित किया गया है। जहां लगातार सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक मरीजों को देखा जाता हैं। नगर निगम के सहयोग से जनता को लाभ उठाना चाहिए।

इस दौरान कारी मशीर हक इमाम नूर मोहम्मदी मस्जिद एम वार्ड, हाफिज जिनो याद रजा रशीदी, डॉ. ए हफीज होप्स इंडिया, सज्जाद भाई, समीर शेख, सामाजिक कार्यकर्ता विनोद जैन महावीर अस्पताल, मुजीब शेख और अन्य सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

हमारी आवाज़

हमारी आवाज एक निष्पक्ष समाचार वेबसाइट है जहां आप सच्ची खबरों के साथ-साथ धार्मिक, राष्ट्रीय, राजनीतिक, सामाजिक, साहित्यिक, बौद्धिक‌ एवं सुधारवादी लेख तथा कविता भी पढ़ सकते हैं। इतना ही नहीं आप हमें अपने आस-पड़ोस के समाचार और लेख आदि भी भेज सकते हैं।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button