बाराबंकी

जनकल्याण किसान एसोसिएशन कार्यालय पर धरतीपुत्र को दी गई श्रद्धांजलि

मसौली/बाराबंकी!(अबू शहमा अंसारी) देवलोक सिधारने(यात्रा)करने वाले उत्तर प्रदेश के यशश्वी पूर्व मुख्यमंत्री,देश के पूर्व रक्षा मंत्री,लोहिया जी के पदचिन्हो पर चलने वाले, समाजवाद के पुरोधा, धरतीपुत्र श्रद्धेय मुलायम सिंह यादव”, नेताजी” की श्रद्धांजलि एवम शोक सभा का आयोजन बुधवार को विकासखंड देवा के ग्राम उमरी स्थित जनकल्याण किसान एसोसिएशन कार्यालय पर किया गया। श्रद्धांजलि सभा में जनकल्याण किसान एसोसिएशन के पदाधिकारियों व सदस्यों के अलावा कई सम्मानित किसान व समाजसेवी जन उपस्थित होकर नेताजी को पुष्पांजलि अर्पित किया। अंत में 2 मिनट का मौन धारण कर नेताजी के दिवंगत आत्मा की शांति और श्री चरणों में वास देने हेतु ईश्वर से प्रार्थना की गई। संगठन के चेयरमैन धर्म कुमार यादव ने कहा कि नेताजी के चरित्र का चित्रण करना सूर्य के सामने चिराग दिखाना जैसा होगा। नेताजी की कीर्ति उत्तर प्रदेश नहीं पूरे देश में कायम है और कायम रहेगी। उन्होंने जो एक अहम काम किया उसके लिए मैं उनका सदैव आभारी रहूंगा। उनको शत-शत नमन करता हूं कि उन्होंने शहीद सेनानियों के पार्थिव शरीर को उनके घर तक पहुंचाने की नीति बनाई और आज सभी शहीदों के परिजन उनका अंतिम संस्कार अपने हाथों करते हैं। इसी क्रम में कुंवर हेल्थ एंड एजुकेशनल ट्रस्ट के संस्थापक/ अध्यक्ष उमेश चंद्रा ने कहा कि परम श्रद्धेय धरती पुत्र मुलायम सिंह यादव जी समाजवाद के पुरोधा थे।जाति- पाति, भेदभाव से ऊपर उठकर उन्होंने जमीनी राजनीति की। गरीब किसानों को राजनीति में उतारकर उन्हें नेता बना दिया। ऐसे नेता को मैं शत शत नमन करता हूं। इसी क्रम में युवा समाजसेवी विकास सिंह बिसेन ने कहा कि नेताजी धरती पुत्र मुलायम सिंह एक नेता बनाने की फैक्ट्री थे और उन्होंने अपने कार्यकाल में जो कुछ कर दिखाया वह अति स्मरणीय होगा। श्री बिसेन ने यह भी कहा कि नेता जी ने जातिवाद की राजनीति से हटकर क्षत्रिय समाज को भी राजनीति में आगे बढ़ाया और एमपी एमएलए बनाने का काम किया। इस अवसर जिलाध्यक्ष जमुना सिंह यादव ,देवा ब्लॉक सचिव नरेंद्र कुमार यादव, महेश प्रसाद,राम भरोसे यादव, पूर्व प्रधान हनोमान प्रसाद यादव, विश्राम यादव, केशव राम यादव, राम मिलन, शिव सिंह,शम्भू प्रसाद,हरदेव प्रसाद ,सदफ सिंह,हनुमान प्रसाद, रवि यादव,आकाश यादव, सुधीर कुमार यादव ,संजीत यादव सहित तमाम समाजसेवी व किसान भाई उपस्थित रहे।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button